May 18, 2024 9:24 am

Search
Close this search box.

प्रोफेसर सूर्यकांत को चिकित्सा एवं रिसर्च के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने हेतु किया गया सम्मानित

Picture of BAHUJAN NEWS DESK

BAHUJAN NEWS DESK

BNN न्यूज़ ब्यूरो
लखनऊ। शुक्रवार को लखनऊ स्थित किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर सूर्यकान्त को चिकित्सा एवं रिसर्च के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए डॉ डीएस मुणगेकर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। यह अवॉर्ड सन् 1974 से हेल्थ साइंसेस के क्षेत्र में किये गये उत्कृष्ट कार्यों के लिए डिपार्टमेन्ट ऑफ साइंस एण्ड टेक्नोलॉजी, भारत सरकार एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन द्वारा दिया जाता है।
डॉ सूर्यकान्त को इस अवॉर्ड से आईएमए की 97वीं ऑल इंडिया मेडिकल कांफ्रेंस (26 से 28 दिसम्बर) प्रयागराज, उ0प्र0 में सम्मानित किया गया। हाल ही में डॉ सूर्यकान्त को विश्व के टॉप 2 प्रतिशत वैज्ञानिकों की श्रेणी में भी स्थान प्राप्त हुआ है। डॉ सूर्यकान्त आईएमए, लखनऊ के अध्यक्ष एवं उ0प्र0 आई0एम0ए0 एकेडमी ऑफ मेडिकल स्पेशलिटीज के चेयरमैन रह चुके हैं एवं वर्तमान में आई0एम0ए0-ए0एम0एस0 के राष्ट्रीय वायस चेयरमेन हैं।
ज्ञात रहे कि डा0 सूर्यकान्त के0जी0एम0यू0 के रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग में 18 वर्ष से प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं एवं 11 वर्ष से विभागाध्यक्ष के पद सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। इसके अलावा वे चिकित्सा विज्ञान सम्बंधित विषयों पर 19 किताबें भी लिख चुके हैं तथा एलर्जी, अस्थमा, टी.बी. एवं कैंसर के क्षेत्र में उनके अब तक लगभग 700 शोध पत्र राष्ट्रीय एवं अर्न्तराष्ट्रीय जनरलस में प्रकाशित हो चुके हैं साथ ही 2 यू0एस0 पेटेन्ट का भी उनके नाम श्रेय जाता है तथा लगभग 200 एमडी/पीएचडी विद्यार्थियों का मार्गदर्शन, 50 से अधिक परियोजनाओं का निर्देशन, 20 फैलोशिप, 13 ओरेशन एवार्ड का भी श्रेय उनके नाम ही जाता है। 20 से अधिक जनर्लस् के सम्पादकीय सलाहकार बोर्ड के सदस्य होने के साथ-साथ लगभग 24 नेशनल एवं इंटरनेशन गाईडलाइन्स एवं एक्सपर्ट कमेटियों के सदस्य हैं। ज्ञात रहे उन्हें अब तक अन्तरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय एवं प्रदेश स्तर की विभिन्न संस्थाओं द्वारा 165 से अधिक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। जिसमें उ0प्र0 का विज्ञान के क्षेत्र का सर्वोच्च पुरस्कार विज्ञान गौरव सम्मान भी शामिल है।
ज्ञात रहे कि डा0 सूर्यकान्त कोविड टीकाकरण के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के ब्रांड एंबेसडर भी हैं। इसके साथ ही चेस्ट रोगों के विशेषज्ञों की राष्ट्रीय संस्थाओं इण्डियन चेस्ट सोसाइटी, इण्डियन कॉलेज ऑफ एलर्जी, अस्थमा एण्ड एप्लाइड इम्यूनोलॉजी एवं नेशनल कालेज ऑफ चेस्ट फिजिशियन (एन0सी0सी0पी0) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं तथा इण्डियन साइंस कांग्रेस एसोसिएशन के मेडिकल साइंस प्रभाग के भी राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। वे पिछले 25 वर्षों से अधिक समय से अपने लेखों व वार्ताओ एवं टी.वी. व रेडियों के माध्यम से लोगो में एलर्जी, अस्थ्मा, टी.बी, कैंसर जैसी बीमारी से बचाव व उपचार के बारे में जागरूकता फैला रहे हैं।

What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!